JobMusafir.com
IPS Kya Hai – IPS Officer Kaise Bane

IPS Kya Hai – IPS Officer Kaise Bane?

आपने कभी न कभी जीवन मे एक बार तो पूलिस मे भर्ती होने का सोचा होगा। अगर आपका जवाब ‘‘हा’’ है तो यह एक अच्छी बात है। क्या आप जानते है, कि अगर आपको पूलिस मे किसी बडे पद जैसे SP, ASP इत्यादी पदो पर जाने के लिए IPS की परीक्षा को पास करना पडता है? अगर आपको नही पता तो आप इस लेख को अन्त तक पढे ताकि आप हमारी पोस्ट IPS Kya Hai – IPS Officer Kaise Bane? के बारे अच्छी से तरह से समझ सकेंगे।

IPS क्या होता है (What is IPS)

पुलिस महकमे मे एक अच्छे पद पर बैठने वाला अधिकारी होतो है जो अपने राज्य, सम्भाग, जिला, खण्ड़ मे कानून व्यवस्था बनाये रखता है। पूलिस डिर्पाटमेंट मे सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण पदो पर भी IPS ही होते है। भारतीय पूलिस सेना के अधिकारी बोलचाल की भाषा मे आईपीएस कहा जाता है। भारत मे इस सेवा को ब्रिटिश शासन के दोहरान ‘‘इपीरियल पुलिस’’ के नाम से जाना जाता है। 

आईपीएस भारत मे सबसे ताकतवर पोस्ट होती है जिसमे जिले के पूलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पूलिस अधीक्ष, डीजीपी, कमीशन इत्यादी पदो पर अपनी सेवाए देते है।

IPS कौन बन सकता है (Who can become the IPS)

देश का हर वो नागरिक आईपीएस बन सकता है जो स्नातक की पढाई कर चुका हो ओर जिसकी आयु 21 वर्ष से ऊपर हो। आईपीएस बनने के लिए अभियार्थीयो के लिए यह जरूरी होता है की वे संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा ( Civil Service Examination conducted by Union public service commission ) को पास करे क्योंकि इसी परीक्षा को पास करने के बाद ही एक सामान्य नागरिक IPS बन सकता है। 

Also Read : Best Professional Computer Courses after 12th

IPS का पुरा नाम (Full form of IPS)

भारत मे इस सेवा को सामान्य भाषा मे आईपीएस ( IPS ) कहा जाता है परन्तु क्या आप इस सेवा का पुरा नाम जानते है। इस का पुरा नाम भारतीय प्रशासनिक सेवा ( Indian Police Service ) है। ब्रिटिश काल मे इस सेवा को IIP ( Indian Imperial Police ) कहा जाता था जिसका पुरा नाम इपीरियल पूलिस था। 

IPS कैसे बने (How to become IPS)

वैसे तो आईपीएस देश का हर नागरिक बन सकता है परन्तु इसके लिए भी कुछ योग्यताओ को होना जरूरी है जिसके बारे मे हम आपको यहा बता रहे है। एक सामान्य नागरिक के पास इन योग्यताओ को होना जरूरी है तो ही वे इस पोस्ट पर अपना एक अच्छा भविष्य देख सकता है। 

  • केवल भारत का नागरिक ही एक IPS बन सकता है। शायद आपको हस बात के बारे मे पता होगा की भारत मे ए ग्रेड की कुछ सेवाओ लिए भुटान व नेपाल के नागरिक भी आवेदन कर सकते है परन्तु देश मे आईपीएस, आई.ए.एस ओर आई.एफ.एस जैसी सेवाओ के लिए केवल भारतीय नागरिक ही आवेदन कर सकते है। 
  • आईपीएस बनने के लिए यह जरूरी है की अभ्यार्थी मानसिक रूप से स्वस्थ हो। 
  • आईपीएस बनने के लिए आपको संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित होने वाली सिविल सेवा को पास करना जरूरी होता है। 
  • आईपीएस के लिए होने वाली परीक्षा 3 स्तरो मे होती है जिसके हर स्तर को अभ्यार्थीयो को पास करना जरूरी होता है। इस परीक्षा के प्रथम स्तर मे प्रारम्भिक परीक्षा होती है, द्वितीय स्तर मे मुख्य परीक्षा होती है इस परीक्षा मे वही विद्यार्थी बैठ सकता है जो प्रारम्भिक परीक्षा को पास कर देता है,
  • मुख्य परीक्षा को पास करने के बाद आपको साक्षत्कार के लिए बुलाया जाता है। सिविल परीक्षा के लिए साक्षात्कार संघ लोक सेवा आयोग के हेडक्वार्टर दिल्ली मे होता है। 
  • अगर आप सिविल सेवा परीक्षा के सभी स्तरो के पास कर देते है तो आपको प्राप्त हुई रैंक के अनुसार आपको पोस्ट दी जाती है जिसके बाद आपको ट्रेनिंग दी जाती है। 
Qualification for IPS

IPS बनने के शैक्षणिक योग्यता ( Qualification for IPS )

अगर आप एक आईपीएस अधिकारी बनने की सोच रहे है तो आपको निम्न योग्यताओ को पूरा करना पडेगा। 

  • आईपीएस बनने के लिए आवेदक की आयु 21 वर्ष से 35 वर्ष होनी जरूरी होता है ओर इसमे नियमानुसार आयु मे छूट भी दी जाती है। 
  • आईपीएस बनने के लिए आवेदक का स्नातक होना जरूरी होता है। आवेदक किसी भी स्ट्रीम से स्नातक होना जरूरी है। 
  • आईपीएस बनने के लिए आवेदक भारतीय नागरिक होना जरूरी है। 
  • आईपीएस बनने के लिए आवेदक का मानसिक रूप से स्वस्थ होना भी जरूरी होता है। 
  • एक अभ्यार्थी जो पहले से भारतीय प्रशासनिक सेवा ओर भारतीय विदेश सेवा मे है वे अभ्यार्थी इस सेवा के लिए आवेदन नही कर सकते है। 

Also Read : 12th के बाद कौन सा कोर्स करें?

IPS के लिए आयु सीमा ( Age Qualification for IPS )

आईपीएस बनने के लिए अभ्यार्थी की आयु 21 वर्ष से 35 वर्ष तक होना जरूरी है। इस आयु सीमा मे नियमानुसार छूट भी दी जाती है जो इस प्रकार है। 

  • अगर अभ्यार्थी अन्य पिछडा वर्ग से है तो उन अभ्यार्थीयो को 3 साल तक की अतिरिक्त छूट दी जाती है। 
  • अगर अभ्यार्थी अनुसूचित जाति ओर अनुसुचित जन जाति से है तो उन अभ्यार्थीयो को 5 साल तक की अतिरिक्त छूट दी जाती है। 
  • भारत के Ex-Servicemen के लिए 5 साल की छूट दी जाती है।

इसमे अधिक जानकारी के लिए आप संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित इस परीक्षा का नोटिफिकेशन देख सकते है। 

IPS के शारीरिक योग्यता (Physical Requirements for IPS)

आईपीएस बनने के लिए आपको शारीरिकयोग्यताओ के कुछ मापदण्ड भी पूरे करने पडते है। जिसमे से कुछ निम्न है। 

IPS के लिए परीक्षा का पेटर्न ( Exam pattern for IPS )

श्रेणीपुरूष के लिए शारीरिक योग्यतामहिला के लिए शारीरिक योग्यता
Height ( ऊचाई )165 CM सामान्य होना चाहिए / SC, OBC श्रेणी के लिए कम से कम Height 160 CM होनी जरूरी है।  / सामान्यतः 150 सेमी / SC, OBC श्रेणी के लिए कम से कम 145 CM होनी जरूरी है
Chest ( चेस्ट )पुरूषो के लिए कम से कम 84 CM होना चाहिए।महिलाओ के लिए कम से कम 79 CM होना चाहिए।
Eyesight ( दृष्टि ) 6/6 or 6/9 / अगर किसी अभ्यार्थी के आंखे कमजोर है तो आपकी eyesight 6/12 or 6/19 होनी चाहिए।6/6 or 6/9 / अगर किसी अभ्यार्थी के आंखे कमजोर है तो आपकी eyesight 6/12 or 6/19 होनी चाहिए।

IPS की परीक्षा भारत मे संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित करवाई जाती है जो भारत मे सिविल सेवा परीक्षा के नाम से जानी जाती है। इस परीक्षा मे IPS के अलावा IAS, IFS or Grade A or Grade B जैसे कई Posts पर एक साथ यह एग्जाम करवाती है। यह परीक्षा देश मे एक साथ आयोजित होती है। इस परीक्षा के मुख्य तीन चरण होत है जो कि कुछ इस प्रकार है। 

Exam pattern for IPS Officer

परीक्षा के तीन चरण

  1. प्रारम्भिक परीक्षा : सिविल सेवा परीक्षा का यह सबसे पहला स्तर होता है जिसके लिए हर साल परीक्षा जून के महिने आयोजित होती है। इस परीक्षा मे 2 पेपर होते है जो की एक ही दिन आयोजित होते है। इस परीक्षा का प्रथम पेपर सामान्य अध्ययन का होता है जिसमे मुख्यतः भुगोल, राजनीति विज्ञान, इतिहास, अर्थशास्त्र, सामान्य विज्ञान ओर सामान्य ज्ञान से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है।

    इस पेपर मे पूछे जाले वाले प्रश्नोकालेवल स्नातक स्तर का होता है। इस पेपर मे कुछ 100 प्रश्न आते है। प्रारम्भिक परीक्षा का दूसरा पेपर सामान्य एप्टीटयूड का होता है जो की 12वी कक्षा के स्तर का होता है। प्रथम पेपर मे आने वाले नम्बर के हिसाब से मेरिट बनती है ओर मुख्य परीक्षा हेतु चयन होता है ओर दूसरा पेपर केवल क्वालीफाई स्तर का होता है जिसे आपको सिर्फ क्वालीफाई करना होता है। यह परीक्षा ओब्जेक्टिव टाईप  की होती है। 
  2. मुख्य परीक्षा : एक बार अगर आप प्रारम्भिक परीक्षा पास कर लेते है तो आपको मुख्य परीक्षा हेतु बुलाया जाता है जिसमे जो सब्जेक्टिव टाईप के होते है। इसमे मुख्यत: 9 पेपर होते है जिसमे 2 ( अंग्रेजी ओर एक अन्य भाषा या हिन्दी ) क्वालीफाई पेपर होते है। इस परीक्षा मे 4 पेपर सामान्य अध्यन के होते है जिसमे भूगोल, इतिहास, अर्थशास्त्र, राजनीति विज्ञान, प्रर्यावरण अध्ययन से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है।

    इसके अलावा 2 Optional Papers होते है जिसमे आप अपने हिसाब से कोई भी विषय का चुनाव कर सकते है। इस परीक्षा मे क्वालीफाई पेपर 300 नम्बर के होते है जिसमे आपको क्वालीफाई करना जरूरी होता है। क्वालीफाई पेपर मे आपको 25 प्रतिशन नम्बर लाना अनिवार्य होता है।
    इस परीक्षा मे होने वाले 7 पेपर जिसमे 4 सामान्य अध्ययप के पेपर ओर 2 ओप्शनल पेपर 250 नम्बर के होते है। इस परीक्षा मे 1 इसपरीक्षामेएकपेपर निम्बंध का भी होता है।
  3. साक्षात्कार : अगर आप मुख्य परीक्षा पास कर लेते है तो आपको साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है जिसमे आपके व्यक्तिवका परीक्षण लिया जाता है। इस परीक्षा मे यह 275 नम्बर का साक्षात्कार होता है। आपको मुख्य सूची मे चयन करने हेतु आपके मुख्य परीक्षा के नम्बर व साक्षात्कार के नम्बर दोनो को जोड कर फाईनल सलेक्शन के लिए मेरिट बनाई जाती है। 

अगर आप इस परीक्षा मे फाईनल रूप से चयनित हो जाते है तो आपको ट्रनिंग के लिए बुलाया जाता है। 

How to prepare for IPS

IPS की तैयारी कैसे करे ( How to prepare for IPS )

अगर आप भी आईपीएस बनने की सोच रहे है तो आप भी इसकी तैयारी कर सकते है बहुत आसानी से, इस परीक्षा की तैयारी के लिए आपको पहले इसके पैटर्न ओर परीक्षा के सैलेबस को समझना जरूरी होता है।

IPS की तैयारी करने सम्बंधित कुछ बिन्दू

  1. IPS तैयारी स्टार्ट करने के पहले आपके दिमाग मे दो चीजे आती है जिसमे कि आप नौकरी के साथ IPS की तैयारी करना चाहते है या पुरे फ्री होकर इसके लिए तैयारी करना चाहते है। 
  2. बिना कोचिंग करे भी आप आसानी से IPS के लिए तैयारी कर सकते है। 
  3. IPS की तैयारी के लिए इसके लिए आयोजित होने वाली परीक्षा के पैटर्न ओर सैलेबस को समझना जरूरी होता ।

IPS की सेलेरी (Salary of IPS)

आईपीएस की सेलेरी को दो भागो मे बांटा जा सकता है। 

  1. अगर आप के लिए नवचयनित है ओ आपको ट्रनिंग के दोहरान करीबन 56,000 के आसपास सेलेरी दी जाती है ओर उसके बाद यह 7वे पेय कमीशन के आधार पर बढती रहती है। 
  2. IPS की अधिकतम सेलेरी 2,25,00,000 प्रतिमाह तक हो सकती है। 

निष्कर्ष

हमने हमारे इस लेख मे आपको IPS के बारे मे पुरी जानकारी देने की कोशिश की गई है। इस लेख मे IPS के लिए योग्यता ओर आयु सीमा के बारे मे भी बताया गया है। उम्मीद करते है की आपको यह लेख पसंद आया होगा। 

FAQ 

Q. IPS कौन बन सकता है?

A. IPS बनने के लिए अभ्यार्थी को स्नातक पास होना जरूरी होता है साथ ही अभ्यार्थी की आयु 21 वे 35 वर्ष के बीच मे होनी चाहिए।

Q. आईपीएस बनने के लिए स्नातक मे कितने प्रतिशत होने चाहिए?

A. बनने के लिए किसी भी अभ्यार्थी को प्रतिशत की कोई बाध्यता नही है, इसके लिए अभ्यार्थीयो को केवल स्नातक पास होना जरूरी होता है। 

Also Read : Best Online Jobs for Students

Vipin Chauhan

A successful digital marketer and blogger from Delhi. Founder of Expert Civil, a company that provide civil engineering training & services.

Add comment